Foreign Secretaries Meeting: Frank, Yes; Constructive, No

‘Still on square one’, pretty much sums up the meeting between the foreign secretaries of India and Pakistan on the sidelines of the ‘Heart of Asia’ Senior Officials meeting in New Delhi. In fact, the meeting was such a non-event that even the usual media hysteria that accompanies anything involving the India-Pakistan hyphenation was missing. The only saving grace was that the two sides kept up the appearance, or if you will pretence, of engaging each other at whatever forum was available to them.

The Political & Security Dimensions for the summer of 2016 in J&K

While much has been written and discussed about the situation in J&K in the last few weeks most of it has been contextual to events. The Handwara incident sent out ominous signals, the fallout wasn’t too psychologically endearing for the Security Forces (SF). The NIT incident wasn’t too positive either. When it comes to J&K, analysts including this one, tend to take every event apart and hardly concentrate on the big picture. Rarely do we have analyses and projections when things are quiet and especially when positive trends are in the making.

क्या वैश्विक वित्तीय बाजारों को अस्थिर कर देगा सऊदी अरब?

इस विषय के केंद्र में अमेरिकी संसद की 28 पृष्ठों की वास्तविक रिपोर्ट है, जिसमें ट्विन टॉवर्स पर 11 सितंबर को हुए हमले की जांच की गई थी। ये 28 पृष्ठ कभी सार्वजनिक नहीं किए गए क्योंकि माना जाता है कि इसमें सऊदी अरब के कुछ व्यक्तियों को उस अपराध में शामिल बताया गया है।

अब अमेरिकी संसद एक विधेयक पर विचार कर रही है, जो इस बात की अनुमति देगा कि सऊदी सरकार को 11 सितंबर, 2001 के हमलों में किसी भी प्रकार की भूमिका के लिए अमेरिकी अदालतों में जिम्मेदार ठहराया जा सके।

China’s Fishing Vessels in the Natuna Island: Implications for the Regional Security

Amid heightened tension in the South China Sea (SCS) over China’s land reclamation in the region, last month, fishing vessel MV Kwang Fey 10078 and a Chinese Coast Guard vessel were found fishing in the exclusive economic zone of Indonesia. This is becoming a regular feature in the region. The incident occurred about 4.3 kilometers off Indonesia’s energy rich Natuna Islands. Consequently, Indonesian patrol vessel detained the vessel along with eight crew member. The vessels were been taken for investigation.

चीन के ‘टू बिग’ सत्र में दलाई लामा के प्रति नीतिगत बदलाव का इशारा

बीजिंग की नीतियों में दलाई लामा के प्रति बदलाव तब स्पष्ट रूप से दृष्टिगोचर हुआ जब बारहवीं राष्ट्रिय जन कांग्रेस (NPC), यानि चीन की संसद जैसी चीज़ 15 मार्च 2016 को ख़त्म हुई। चीन ने एन.पी.सी. के सत्र और चिनिं के सी.पी.पी.सी.सी.

वायु शक्तिः सैन्य अभियान सपोर्ट के लिए जमीनी आक्रमण क्षमता बढ़ाना अपरिहार्य

भारतीय वायु सेना की ताकत का प्रदर्शन करने के लिए किये जाने वाले आयरन फिस्ट अभ्यास की पूर्व संध्या पर हाल ही में एयर मार्शल बीएस धनोआ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि दो मोर्चों पर लड़ाई लड़ने के लिए वायु सेना के पास पर्याप्त संख्या नहीं है। यह एक ऐसी बात है जिसका सार्वजनिक रूप से कहा जाना अपने आप में एक दुर्लभ बात है। भारतीय वायु सेना की स्क्वाड्रन संख्या 39.5 से कम होकर 32 रह गई है जिसके कारण जमीनी स्तर पर लक्ष्य पर प्रहार करने और नेस्तानाबूत करने की वायु सेना की ताकत बहुत बुरे तरीके से प्रभावित हुई है। हाल ही में वाशिंगटन डीसी स्थित ‘कार्नेज एंडोवमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस’ के सीनियर रिसर्च असोस

रक्षा सौदा नीति 2016 के सफल कार्यान्वयन के लिए जानकारियों को एकीकृत करने की जरुरत

सरकार ने रक्षा सौदों की नीति (डी.पी.पी.) को मार्च 2016 में जारी किया है, ये उनकी विचारधारा के अनुरूप है जिसमें सरकार मानती है कि ‘रक्षा के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता, सामरिक और आर्थिक दोनों नजरिये से जरूरी है’। डीपीपी आन्तरिक रूप से डिजाईन किये, निर्मित और उन्नत किये गए उपकरणों को प्राथमिकता देता है। इस से पहले भी डीपीपी 2013 में इस बात पर विशेष बल दिया गया था कि आतंरिक रूप से निर्मित उपकरणों को खरीदने पर पहले ध्यान दिया जाये, जब ऐसे उपकरण भारत में उपलब्ध ना हों तभी बाहर की तरफ नजर डाली जाये। किन्ही कारणों से स्वदेशी उपकरणों में इस से कुछ ख़ास बढ़ोत्तरी नहीं आई। स्वदेशीकरण के प्रयासों की विफलता पर

The Boko Haram challenge in Africa

After six years of deadly Islamic insurgency by Boko Haram which has caused more than 20000 civilian and military casualties so far, finally Nigerian Army in cooperation with forces from Benin, Chad, Niger, and Cameroon seem to get some success in their military campaign against the extremist group.

Boko Haram which was holding swathes of territory in north eastern Nigeria’s Borno, Yobe and Adamawa state last year has lost control over much of the part it had seized.

हाथ से निकलते इलाके, दाएश के सामने नयी चुनौती

पूरी दुनिया में खिलाफत की स्थापना की शपथ लेने वाले इस्लामिक स्टेट या दाएश जैसे संगठन के लिए अपने कब्जे वाले इलाकों का हाथ से खिसकते जाना निश्चित रूप से एक झटका है। अमेरिका स्थित एक सूचना एजेंसी का अनुमान है कि एक जनवरी से 14 दिसंबर के बीच इराक और सीरिया में दाएश के कब्जे से 12,000 वर्ग किलोमीटर का इलाका छिन गया और यह 78,000 वर्ग किलोमीटर रह गया, यह कुल 14 प्रतिशत भूभाग का नुकसान है।1 पिछले साल 30 सितंबर से सीरिया में शुरू हुए रूस के हवाई हमलों ने दाएश को अलग-थलग करने में बड़ी भूमिका निभायी। रूसी दखल की बदौलत बशर अल असद की फौज और उसके सहयोगियों ने इस साल मार्च के आखिर में दाएश को पालम