भारत का सियोल अभियान

परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में प्रवेश हासिल करने की भारत की कोशिश को चीन ने नाकाम कर दिया और कुछ वर्गों ने इसके लिए भारत द्वारा अपनाई गई कूटनीतिक अतिसक्रियता की आलोचना की है। आलोचकों के मुख्य तर्क हैं कि इतनी सक्रियता अनावश्यक थी क्योंकि एनएसजी की सदस्यता महत्वपूर्ण है, कि भारत दूसरे दर्जे का सदस्य होता और उसे मिला झटका राष्ट्र के लिए बहुत बड़ी शर्मिंदगी है।

ऊपर दिए गए सभी तर्क बेबुनियाद हैं।

China’s Day of Reckoning

The Permanent Court of Arbitration (PCA) has issued its award in the arbitration case between the Philippines and China. The Philippines had initiated arbitration proceedings against China in January 2013 under Annex VII to the United Nations Convention on the Law of the Sea (UNCLOS) “with respect to the dispute with China over the maritime jurisdiction of the Philippines in the West Philippine Sea”1.

South China Sea: China’s Achilles Heel?

In an eleven-page press release, the Permanent Court of Arbitration has given its unanimous award by the Tribunal under Annex VII to the United Nation Convention on the Laws of the Sea (the “Convention”) in the arbitration instituted by the Republic of the Philippines against the People’s Republic of China on the South China Sea.

कार्यान्वयन, सुशासन की कुंजी है

जहां विफलता कोई विकल्प नहीं है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में एक बातचीत के दौरान अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों से कथित तौर पर कहा कि यह समय सरकार के विभिन्न घोषणाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने के प्रयासों को बढ़ा कर दोगुना करने का है। कोई भी सरकार क्यों न हो, खासकर हमारी सरकार जिसे लोगों ने जन आकांक्षाओं की पूर्ति की भारी उम्मीदों के साथ चुना है, को घोषणाओं की संख्या के आधार पर आंका जा सकता है। अंततः समीक्षा सरकार की अपनी नीतियों और कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में प्रवीणता के आधार पर की जाएगी। इसके मद्देनजर प्रधानमंत्री, परियोजनाओं की प्रगति की निगरानी में काफी समय लगा रहे हैं और अपने सामने आए बाधाओं को दूर कर उसे सामा

Tejas Fighter Induction: Glory and the Grind

On 1 July the Deputy Chief of the Indian Air Force (IAF) Air Marshal RKS ‘Chottu’ Bhadauria received the first two series production Tejas light combat aircraft (LCA) from HAL. These would equip IAF’s 45 ‘Flying Daggers’ Squadron—which, it may be recalled, shot down a Pakistani Atlantique surveillance aircraft that intruded in Indian airspace in 1999. Celebrations are indeed called for. To begin with for the Aeronautical Development Agency (ADA) that indigenously designed and developed Tejas from the drawing board.

Ending Round The Year Poll Cycle

Editor's Note
Dear Readers,
From this week, we are happy to start a weekly column (In Perspective) by noted political commentator Rajesh Singh, who will be writing on politics and governance issues for the VIF website every Tuesday.


In a recent interview to Times Now news channel, Prime Minister Narendra Modi strongly endorsed the idea of simultaneous Lok Sabha and State Assembly elections. The last time elections to the States and the Centre were held together in the country was nearly half a century ago.

चीन की दूसरी महान दीवार

पिछले लगभग एक साल से और विशेषतौर पर पिछले महीने से चीन को दूसरी ‘महान दीवार’ (ग्रेट वाल) का निर्माण कार्य करते देखा गया है। अमेरिका के रक्षा सचिव, एश्टन कार्टर ने मई 2016 में अमेरिकी नौसेना अकादमी के स्नातक समारोह में और उसके बाद शांगरी-ला वार्ता 2016 में इसी दीवार का संदर्भ देते हुए चीन द्वारा ‘अलगाव की महान दीवार’ (ग्रेट वाल ऑफ आइजोलेशन) खड़ी किए जाने की बात कही थी। अमेरिकी प्रशांत बेड़े के कमांडर एडमिरल हैरी बी हैरिस जूनियर, ने भी दक्षिण चीन सागर में चीन के दावा करने व उसके निर्माण गतिविधियों के संदर्भ में चीन द्वारा ‘रेत की महान दीवार’ खड़ी करने पर बोलते हुए इस शब्द का इस्तेमाल किया था। हाला

Burhan Wani's Killing and Its Aftermath

Kokarnag in the southernmost part of South Kashmir, is a sleepy little township. It once was the bastion of militancy due to the presence of the lofty Pir Panjal range in whose shadow it lies and the forested tracts of the lower hills; the terrain was tailor made for militancy. Through the first ten years of the millennium one of the Indian Army's famous units, 36 Rashtriya Rifles (RR) (Garhwal Rifles), cleaned the area out leaving few signs of militancy behind. It earned as many four COAS Unit Citations and many more awards for this feat.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती - क्या वह अंतिम रूप से पहुंच चुकी हैं?

उपचुनाव जीतना केवल एक शुरुआत है

भारत में, परंपरागत रूप से राज्य विधानसभा के लिए उपचुनाव पदस्थ मुख्यमंत्री के उसके पद पर बने रहने के लिए, तकनीकी रूप से एक संवैधानिक वैधता हासिल करना है। आम तौर पर राजनीतिक हित का यह एक बड़ा सौदा नहीं है। आंकड़ों के लिहाज भी देखें तो, भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में कुछ ही ऐसे अवसर हुए हैं, जब पदस्थ मुख्यमंत्री इस प्रकार जीत हासिल करने में नाकाम रहे हों। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग निर्वाचन क्षेत्र पर 23 जून को हुए उपचुनाव को जीतने में सफल रहीं। यह सीट इस साल जनवरी में उनके पिता के निधन के बाद से खाली हुई थी। अनंतनाग निर्वाचन क्षेत्र मुफ्ती साहब का राजनीतिक ग

क्या ईरान ने त्याग दिया है अपना परमाणु विकल्प?

वर्ष 2016 में ईरान का बाकी दुनिया के साथ राजनीतिक और आर्थिक दोनों तरीकों से पुनर्मिलन हुआ। जनवरी में जेसीपीओए (परमाणु समझौते पर संयुक्त समग्र कार्य योजना) लागू होने के कारण ही ऐसा हो पाया। ईरान पर लगे परमाणु प्रतिबंध हटा लिए गए और वहां एक के बाद एक कई द्विपक्षीय यात्राएं हुईं, उसके राष्ट्रपति विदेश गए और दूसरे नेता ईरान पहुंचे। किंतु दोस्ती के इस माहौल में एक पहलू बिल्कुल उलट दिखता है और वह है ईरान का युद्धक प्रक्षेपास्त्र कार्यक्रम।